Colors Name in Hindi & English | रंगों के नाम | theeNotes.com

रंग : 

रंग, आभास बोध का मानवी गुण धर्म है, जिसमें लाल, हरा, नीला, इत्यादि होते हैं। रंग, मानवी आँखों की वर्णक्रम से मिलने पर छाया सम्बंधी गतिविधियों से उत्पन्न होते हैं।
दुनिया रंगीन है, हम अपने दैनिक जीवन मे विभिन्न प्रकार के रंगों को देखते हैं, बचपन से ही हमें रंगो के बारे में बताया जाता है, कई बार हमें घटनाएँ भूल जाती है, लेकिन घटित रंग जरुर याद रहता है | इस पोस्ट में हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में रंगों के नाम के साथ कलर की लिस्ट दी हुई है, जिससे Colors को याद करने और Colors को पहचानें में आसानी होगी।

Colour Name in Hindi and English

रंगों के नाम, हिंदी और अंग्रेजी में

Color
English Hindi
Black काला
Blue नीला
White सफेद
Red लाल
Brown भूरा
Pink गुलाबी
Orange नारंगी
Purple बैगनी
Yellow पीला
Green हरा
Grey स्लेटी
Navy blue गहरा नीला
Silver चांदी
Golden सुनहरा
Dusky खाकी
Turquoise फ़िरोज़ा
Clay मिट्टी का रंग

इस आर्टिकल में आपने #Colour_Name_in_Hindi, रंगों के अंग्रेजी और हिंदी नाम को जाना, तथा रंगों को पहचाना | हमें उम्मीद है की इस पोस्ट में आपने रंगों के बारे भली-भातीं जाना और समझा होगा, रंगों की यह सूची लेखक ने स्वतः लिस्ट किया हुआ है, अगर इसमें कोई रंग छुट गया हो तो उसे कमेंट में जरुर बताएं, हम जल्द ही उसे पब्लिश करेंगे |
Name of days (दिनों के नाम) in Hindi, English, and Urdu
दिनों के नाम

Name of 7 days of the week in Hindi, and English

सप्ताह के दिनों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में

Mondayमंडेसोमवार
Sundayसन्डेरविवार
Tuesdayट्यूजडेमंगलवार
Wednesdayवेडनेसडेबुद्धवार
Thursdayथर्सडेब्रहस्पतिवार/गुरुवार
Fridayफ्राईडेशुक्र
Saturdayसैटरडेशनिवार
Sundayसन्डेरविवार
Sundayसन्डेरविवार

Name of 7 days of the week in Hindi, and Urdu

सप्ताह के दिनों के नाम हिंदी और उर्दू में

उर्दू हिंदी
पीर सोमवार
मंगल मंगलवार
बुध बुधवार
जुमेरात ब्रहस्पतिवार (गुरूवार)
जुमा शुक्रवार
शनिचर शनिवार
इतवार रविवार

Name of days in Hindi

सप्ताह के दिनों के नाम हिंदी

  • सोमवार
  • मंगलवार
  • बुधवार
  • ब्रहस्पतिवार (गुरूवार)
  • शुक्रवार
  • शनिवार
  • रविवार

Name of 7 days in English

सप्ताह के दिनों के नाम अंग्रेजी में

  • Monday
  • Tuesday
  • Wednesday
  • Thursday
  • Friday
  • Saturday
  • Sunday

Name of 7 days in Urdu

सप्ताह के दिनों के नाम उर्दू में

  • पीर
  • मंगल
  • बुध
  • जुमेरात
  • जुम्मा
  • शनिचर
  • इतवार
What is Noun? Defination and there types. theeNotes.com

Nouns refer to persons, animals, places, things, ideas, or events, etc. Nouns encompass most of the words of a language.
A noun can be a/an -  
Person – a name for a person: - Max, Julie, Catherine, Michel, Bob, etc.
Animal – a name for an animal: - dog, cat, cow, kangaroo, etc.
Place – a name for a place: - London, Australia, Canada, Mumbai, etc.
Thing – a name for a thing: - bat, ball, chair, door, house, computer, etc.
Idea – A name for an idea: - devotion, superstition, happiness, excitement, etc.

Different Types of Noun:
  • Proper Noun
  • Common Noun
  • Abstract Noun
  • Concrete Noun
  • Countable Noun
  • Non-countable Noun
  • Collective Noun
  • Compound Noun

Proper Noun:

A proper noun is a name that refers only to a single person, place, or thing and there is no common name for it. In written English, a proper noun always begins with capital letters.
Example: Melbourne (it refers to only one particular city), Steve (refers to a particular person),
Australia (there is no other country named Australia; this name is fixed for only one country).


Common Noun:

A common noun is a name for something which is common for many things, person, or places. It encompasses a particular type of thing, person, or place.
Example: Country (it can refer to any country, nothing in particular), city (it can refer to any city like Melbourne, Mumbai, Toronto, etc. but nothing in particular).
So, a common noun is a word that indicates a person, place, thing, etc. In general and a proper noun is a specific one of those.


Abstract Noun:

An abstract noun is a word for something that cannot be seen but is there. It has no physical existence. Generally, it refers to ideas, qualities, and conditions.
Example: Truth, Lies, happiness, sorrow, time, friendship, humor, patriotism, etc.


Concrete Noun:

A concrete noun is the exact opposite of abstract nouns. It refers to the things we see and have a physical existence.
Example: Chair, table, bat, ball, water, money, sugar, etc.


Countable Noun:

The nouns that can be counted are called countable nouns. Countable nouns can take an article: a, an, the.
Example: Chair, table, bat, ball, etc. (you can say 1 chair, 2 chairs, 3 chairs – so chairs are countable)


Non-countable Noun:

The nouns that cannot be counted are called non-countable nouns.
Example: Water, sugar, oil, salt, etc. (you cannot say “1 water, 2 water, 3 water” because water is not countable)
Abstract nouns and proper nouns are always non-countable nouns, but common nouns and concrete nouns can be both count and non-count nouns.


Collective Noun:

A collective noun is a word for a group of things, people, or animals, etc.
Example: family, team, jury, cattle, etc.
Collective nouns can be both plural and singular. However, Americans prefer to use collective nouns as singular, but both of the uses are correct in other parts of the world.


Compound Noun:

Sometimes two or three nouns appear together, or even with other parts of speech, and create idiomatic compound nouns. Idiomatic means that those nouns behave as a unit and, to a lesser or greater degree, amount to more than the sum of their parts.
Example: six-pack, five-year-old, and son-in-law, snowball, mailbox, etc.
कंप्यूटर की उपयोगिता Computer Utility

कंप्यूटर की उपयोगिता

आजकल अधिकांश जगहों जैसे बैंको, कार्यालयों, रेलवे स्टेशनो आदि जगहों पर कंप्यूटर द्वारा कार्य होता है, विशेष गुण होने की वजह से कंप्यूटर की उपयोगिता हर क्षेत्र में दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। सभी चाहते हैं कि काम शत-प्रतिशत सही हो, जल्दी हो तथा सूचनाये भी सुरक्षित रहें, जो कंप्यूटर द्वारा आसानी से किया जा सकता है इसलिए कंप्यूटर अब मानव की ज़रूरत बन गया है।

विद्यालय में उपयोग

विद्यालय में कंप्यूटर का प्रयोग फी का रिकॉर्ड तथा परीक्षाफल जैसी सूचनाओं को करने के लिए किया जाता है इसके अलावा विद्यालय में छात्र कंप्यूटर को प्रयोग करना सीखते हैं।

बैंक में उपयोग

बैंक में पैसा जमा करने और निकालने में कंप्यूटर का प्रयोग होता है। ग्राहकों के हस्ताक्षर का नमूना भी कंप्यूटर में ही सुरक्षित रहता है इसके द्वारा पैसों का लेन-देन बड़ी आसानी से हो जाता है।

रेलवे स्टेशन पर उपयोग

रेलवे स्टेशन पर कंप्यूटर का प्रयोग आरक्षण की स्थिति का पता लगाने तथा रेलों के आने एवं जाने के समय की जानकारी प्राप्त करने में किया जाता है, कौन-सी रेलगाड़ी कहाँ जाएगी, तथा रेलगाड़ि का किराया जानने में भी कंप्यूटर के प्रयोग किया जाता है।

अस्पताल में उपयोग

अस्पताल में मरीज का विवरण कंप्यूटर में रखा जाता है, बीमारी का पता लगाने तथा ऑपरेशन के समय सभी कठिनाइयों को हल करने में भी कंप्यूटर का प्रयोग किया जाता है।

मनोरंजन में उपयोग

कंप्यूटर का उपयोग मनोरंजन के क्षेत्र में काफी तेजी से बढ़ा है, मनोरंजन के क्षेत्र में कंप्यूटर का प्रयोग संगीत सुनने, फ़िल्म देखने तथा गेम खेलने में किया जाता है

कार्यालय में उपयोग

कार्यालय में कर्मचारियों के विवरण कार्य प्रारंभ करने की तिथि कंप्यूटर में रहती हैं, इसके अलावां कार्यालयों में कई काम जैसे शीट बनाना, व्यापार का हिसाब रखना आदि कार्य कंप्यूटर पर ही होते हैं। 
कंप्यूटर की विशेषताएं व गुण- Computer features & Quality

कंप्यूटर की विशेषताएँ व गुण

Features of Computer

कंप्यूटर में कुछ विशेष गुण होते हैं, जो इसे अन्य उपकरणों से अलग करते हैं। हर एक कंप्यूटर में उनके आकर और क्षमता के अनुसार विशेष गुण होते हैं, लेकिन कुछ गुण ऐसे भी होते हैं जो सभी कंप्यूटर में सामान होते हैं। जैसे-गति, भण्डारण क्षमता, शुद्धता, स्वचालन और बहु-उपयोगिता

1. गति (SPEED)

कंप्यूटर के सभी गुणों में से सबसे बड़ा गुण (SPEED) गति होता है। वास्तव में कंप्यूटर का निर्माण ही कार्यों को जल्दी से पूरा करने के लिए बनाया गया है, यह कठिन से कठिन गणनाएँ भी नैनो सेकेण्ड में पूरा कर लेता है।

2. भण्डारण क्षमता (STORAGE CAPACITY)

जिस प्रकार हम घटनाओं और दृश्यों को अपने दिमाग में याद रखते हैं, उसी प्रकार कंप्यूटर के पास भी सूचनाओ और आकड़ो को याद रखने की शक्ति होती है। मानव अपने द्वारा याद किये आकडे भूल सकते हैं, लेकिन कंप्यूटर आकड़ो को कभी नहीं भूलता जब तक की उसे डिलेट नहीं किया जाये।

3. शुद्धता (ACCURACY)

कंप्यूटर की सबसे बड़ी विशेषता होती है, शुद्धता | कंप्यूटर तब तक शुद्ध परिणाम देता है, जब तक इसे गलत इनपुट ना दिया जाये, यह हमेशा सही आउटपुट देता है, इसमें कोई गलती नही होती है |

4. स्वचालन (AUTOMATION)

कंप्यूटर के गुणों में से एक एक गुण है- 'स्वचालन', एक निश्चित आदेश देने के बाद कंप्यूटर स्वतः अपना काम करता रहता है जब तक उसे रुकने का आदेश ना मिले |

5. बहु-उपयोगिता (VERSATILITY)

बहु-उपयोगिता कोई गुण नहीं है लेकिन कंप्यूटर के  विशेष गुण होने की वजह से इसकी उपयोगिना बहुत बढ़ गयी है | आपने बैंक, दुकान अस्पताल, रेलवे-स्टेशन आदि स्थानों पर कंप्यूटर द्वारा कम करते देखा होगा, यह सभी कंप्यूटर के विशेष गुण होने की वजह से ही हुआ है |

राज्य और उनकी राजधानियां State and Capitals

राज्य

भारत में शासन के लिये द्वितीय स्तर (राष्ट्र के नीचे) की इकाई को प्रदेश या प्रांत कहा जाता है। इस शब्द का चलन भारत के आंग्लकृत एकीकरण के बाद (अतएव स्वतंत्र भारत में भी) हुआ। हालाँकि संविधान व अन्य शासकीय पत्रों में "राज्य" शब्द ज्यादा प्रयुक्त होता है। यह शब्द कई राज्यों के नामों में भी जुड़ा हुआ है। उदाहरणतया ‍मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, अरुणांचल प्रदेश आदि।
भारत में 28 राज्य थे, लेकिन 2 जून, 2014 को तेलंगाना देश का 29वां राज्य बना |

भारत के 29 राज्य और उनकी राजधानियां

No. राज्य राजधानियां
1. आंध्र प्रदेश हैदराबाद
2. अरुणाचल प्रदेशइटानगर
3. असमदिसपुर
4. बिहारपटना
5. छत्तीसगढ़ रायपुर
6. गोवा पणजी
7. गुजरात गांधीनगर
8. हरियाणा चंडीगढ़
9.हिमाचल प्रदेश शिमला
10. जम्मू-कश्मीर जम्मू और श्रीनगर
11. झारखंड रांची
12. कर्नाटक बेंगलुरु
13. उड़ीसा भुवनेश्वर
14. केरल तिरुवनंतपुरम
15. मध्य प्रदेश भोपाल
16. महाराष्ट्र मुंबई
17. मणिपुर इंफाल
18. मेघालय शिलांग
19. मिजोरम आइजोल
20. नागालैंड कोहिमा
21. पंजाब चंडीगढ़
22. राजस्थानजयपुर
23. सिक्किम गंगटोक
24. तमिलनाडु चेन्नई
25. तेलंगाना हैदराबाद
26. त्रिपुरा अगरतला
27. उत्तर प्रदेश लखनऊ
28. उत्तराखंड देहरादून
29. पश्चिम बंगाल कोलकाता


केन्द्रशासित प्रदेश

केन्द्रशासित प्रदेश संघक्षेत्र भारत के संघीय प्रशासनिक ढाँचे की एक उप-राष्ट्रीय प्रशासनिक इकाई है। भारत के राज्यों की अपनी चुनी हुई सरकारें होती हैं, लेकिन केन्द्र शासित प्रदेशों में सीधे-सीधे भारत सरकार का शासन होता है।भारत में 7 केन्द्रशासित प्रदेश हुआ करते थे, लेकिन 05 Aug 2019 को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को खत्म करने के बाद अब भारत मे कुल  केंद्र शाशित प्रदेश है | जिसमे जम्मू-कश्‍मीर एवं लद्दाख दो नए केन्द्रशासित प्रदेश बने हैं |

9 केन्द्रशासित प्रदेश और उनकी राजधानियां

No. राज्य राजधानियां
1. अंडमान व निकोबार
द्वीपसमूह
पोर्ट ब्लेयर
2. चंडीगढ़चंडीगढ़
3. दमन और दीवदमन
4. दादरा और नागर हवेलीसिलवासा
5. पॉण्डिचेरी पुडुचेरी
6. लक्षद्वीप कवरत्ती
7. दिल्ली नई दिल्ली
8. जम्मू और कश्मीर जम्मू और कश्मीर
9. लद्दाखलद्दाख

Sitemap

संस्कृत में महीनों के नाम | Months Name in Sanskrit
इस पोस्ट में हम महीनों के नाम को संस्कृत में पढेंगे, महीनो की स्पेलिंग, और हिंदी महीनों के नाम को पढने के लिए क्लिक करें |
संस्कृत में महीनों के नाम

संस्कृत में महीनों के नाम

चैत्र: (मार्च-अप्रैल)
वैशाख: (अप्रैल -मई )
ज्येष्ठ: (मई -जून )
आषाढ़: (जून-जुलाई)
श्रावण: (जुलाई-अगस्त)
भाद्रपद: (अगस्त-सितम्बर)
आश्विन: (सितम्बर-अक्टूबर)
कार्तिक: (अक्टूबर-नवम्बर)
मार्गशीर्ष: (नवम्बर-दिसम्बर)
पौष: (दिसम्बर-जनवरी)
माघ: (जनवरी-फरवरी)
फाल्गुन: (फरवरी-मार्च)





विडियो में सीखें :


इस पोस्ट में आपने महीनों के नाम को संस्कृत में पढना सिखा, महीनों के नाम को हिन्दू कैलेण्डर के अनुसार, तथा महीनों की स्पेलिंग पढने के लिए क्लिक करें | और यह जानकारी पसंद आयी हो तो इसे शेयर करें, और इस पोस्ट से रिलेटेड कुछ पूछने के लिए स्वतंत्र महसूस करें |
महीनो के नाम हिंदी और अंग्रेजी में
इस पोस्ट में हम महीनो के नामों की स्पेलिंग जानेंगे, महीनों के नामों को संस्कृत और हिंदी महीनों को पढने के लिए क्लिक करें |

12 Months Name Spelling

January - जनवरी
February - फरवरी
March - मार्च
April - अप्रैल
May - मई
June - जून
July - जुलाई
August - अगस्त
September - सितम्बर
October - अक्टूबर
November - नवम्बर

इस पोस्ट में आपने महीनो के नामों की स्पेलिंग जानी, अपनी जरुरत के हिसाब से www.theenotes.com जानकारी उपलब्ध कराने के लिए हमे संपर्क करें या कमेंट में बताएं, सुझाव के लिये आपका हमेशा से हार्दिक स्वागत है |
हिन्दू पंचांग - महीनों के नाम | Hindi Months Name
12 महीनो के नाम, Hindi Month Name Calendar, Hindi mahino ke Naam in Hindi, Hindi month name in English and Sanskrit. 12 हिन्दू महीनो के नाम हिंदी में, महीनो के नाम अंग्रेजी में, हिंदी महीनो के नाम संस्कृत में :
जिस तरह अंगेजी (ग्रीक) वर्ष में 12 महीने होते है, उसी तरह हिन्दू वर्ष में भी 12 महीने होते हैं| हिन्दू कैलेंडर के अनुसार महीने में 2 पक्ष होते हैं- (कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष) जिसमे शुक्ल पक्ष पंद्रह दिन तथा कृष्ण पक्ष पंद्रह दिन के होते हैं | जहाँ अंगेजी वर्ष की शुरुआत जनवरी महीने से होती है, वहीँ हिंदी वर्ष की शुरुवात चैत्र माह से होती हैं ,जो अंग्रेजी कैलेण्डर के अनुसार मार्च - अप्रैल में पड़ता है |




हिंदी और अंग्रेजी कलेंडर के अनुसार महीनों के नाम 

हिंदी महीनो के नाम  अंगेजी महीनो के नाम 
चैत्रमार्च-अप्रैल
वैशाख अप्रैल -मई
ज्येष्ठमई -जून 
आषाढ़जून-जुलाई
श्रावणजुलाई-अगस्त
भाद्रपदअगस्त-सितम्बर
आश्विनसितम्बर-अक्टूबर
कार्तिकअक्टूबर-नवम्बर 
मार्गशीर्षनवम्बर-दिसम्बर
पौषदिसम्बर-जनवरी
माघजनवरी-फरवरी
फाल्गुनफरवरी-मार्च
महीनो के नाम हिंदी और अंग्रेजी में (Spelling)
महीनो के नाम संस्कृत में
इस आर्टिकल में आपने हिंदी-कैलेण्डर के हिन्दू-महीनो के नाम को अंग्रेजी महीनो के साथ जाना है | यदि आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को शेयर करें, और अगर आपका कोई सवाल हो तो हमें कमेंट करें | सुझाव के लिए आपका हमेशा से स्वागत रहेगा |